icon icon

FREE SHIPPING above Rs.350!*

Follow Us:

Author
Nobel Hygiene

In This Article

क्या होगा जब आप किसी महत्वपूर्ण जगह पर हों और आपको बार बार पेशाब जाना पड़े? और इस वजह से आप लोगों से बात करने, महत्वपूर्ण घटनाओं और अन्य चीजों से चूक जाएं तो?। सोचने में भी बेचैनी हो रही है ना? ऐसी परिस्थिति किसी भी शख्स के लिए कठिन हो सकती है। और ऐसी ही परिस्थिति को कहा जाता है अतिसक्रिय मूत्राशय। 

अतिसक्रिय मूत्राशय के बारे में और जानने से पहले ये जानना जरूरी है कि मूत्राशय क्या है। मूत्राशय शरीर का वो अंग है जो शरीर के मूत्र को संग्रहित करता है। ये एक त्रिकोण आकार का खोखला भाग है जो पेट के निचले हिस्से में होता है। मूत्राशय की दीवारें मूत्र को संग्रहित करने के लिए विस्तारित होती हैं, और मूत्रमार्ग के माध्यम से पेशाब खाली होने से सिकुड़ती हैं।

अतिसक्रिय मूत्राशय क्या है?

अतिसक्रिय मूत्राशय एक ऐसी परिस्थिति है जिसमे एक व्यक्ति को बार-बार पेशाब जाने की इच्छा होती है। इसे नियंत्रित कर पाना भी काफी मुश्किल हो जाता है। अतिसक्रिय मूत्राशय को ओएबी भी कहा जाता है।

अतिसक्रिय मूत्राशय से जूझ रहे व्यक्ति को दिन में कई बार पेशाब करने की इच्छा हो सकती है। ऐसे में कई बार असमंजस, बेचैनी, और थोड़ी शर्मिंदगी महसूस हो सकती है। मगर इसमें घबराने या परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। इसके लक्षणों, कारणों, और उपायों, को जानकर अतिसक्रिय मूत्राशय या ओवर एक्टिव ब्लैडर का इलाज किया जा सकता है। दिक्कत महसूस होते ही डॉक्टर के पास जाने में संकोच नहीं करना चाहिए। 

अतिसक्रिय मूत्राशय के कारण 

अतिसक्रिय मूत्राशय के कई कारण हो सकते है। ओवरएक्टिव ब्लैडर आपके मूत्राशय की मांशपेशियों को सिकोड़ता है, जिसकी वजह से जब मूत्राशय भरा नहीं होता तब भी पेशाब करने की इच्छा होती है। हालांकि, इसके कुछ सामान्य कारण हो सकते है:

  • बहुत ज्यादा पानी पीना
  • मधुमेह (डायबिटीज)
  • मूत्र मार्ग का संक्रमण
  • खराब किडनी
  • पथरी
  • मूत्राशय कैंसर
  • कैफीन और शराब जैसे पदार्थों का सेवन
  • मूत्राशय में रुकावट
  • मूत्राशय में असमानताएं
  • यूटीआई इन्फेक्शन
  • न्यूरोलॉजिकल विकार - स्ट्रोक, इत्यादि

अतिसक्रिय मूत्राशय के लक्षण  

बार बार पेशाब आना अतिसक्रिय मूत्राशय का सबसे आम लक्षण है। इसके अलावा अतिसक्रिय मूत्राशय के अन्य सामान्य लक्षण हैं:

  • अचानक पेशाब करने की इच्छा
  • बार-बार पेशाब आना (दिन में सात आठ से अधिक बार)
  • कई दिनों तक आधी रात में पेशाब के लिए उठना 
  • तत्काल पेशाब करने की इच्छा

हालांकि, यह भी जानना जरूरी है कि कभी-कभी अधिक पेशाब आने का ये मतलब नही है कि आप अतिसक्रिय मूत्राशय से प्रभावित है। पेशाब की लीकेज और भी अन्य कारणों से हो सकती है। जैसे कि, कभी अचानक से छींक आना, या जोर से हंसने की वजह से भी ऐसा हो जाता है।

Product Recommendations

अतिसक्रिय मूत्राशय के उपचार 

ओवर एक्टिव ब्लैडर का इलाज: अतिसक्रिय मूत्राशय के कई घरेलू उपचार हैं:

  • पेल्विक फ्लोर व्यायाम
  • पेल्विक फ्लोर फिजिकल थेरेपी
  • दवाइयां
  • तरल पदार्थ में नियंत्रण
  • शराब और कैफ़ीन का सेवन ना करें या कम करें
  • स्वस्थ वजन बनाए रखें और अच्छी डाइट लें 
  • धूम्रपान ना करें

वैसे तो अतिसक्रिय मूत्राशय में घबराने वाली कोई बात नही है और कई बार यह घरेलू उपायों से ठीक हो जाता है। अगर आप अतिसक्रिय मूत्राशय और लीकेज से परेशान है, तो इस परेशानी से बचने के लिए ऐडल्ट डायपर्स का उपयोग करें। Friends Adult Diapers अपनी बेहतरीन गुणवत्ता के कारण बेस्ट माना जाता है। यह अलग-अलग वेरिएंट्स में उपलब्ध है और 16+ घंटे तक ड्राई रखने में सक्षम है। ये पुरषों और औरतों दोनो के लिए उपयोगी है और उच्च गुणवत्ता के पदार्थों से बना है। यूरिन लीकेज से आज़ादी मुबारक! 

निष्कर्ष 

एक ओवर एक्टिव ब्लैडर से मूत्राशय अतिसक्रिय हो सकता है। पर इसमें शर्माने या घबराने वाली बात नही है। उपचारों और दवाइयों से इसे ठीक किया जा सकता है। अक्सर ऐसी परिस्थितियों में लोग चिकित्सक के पास जाने से कतराते है, मगर यकीन मानिए, इसे छुपाना या अपने डॉक्टर से परामर्श न लेना हानिकारक हो सकता है। तो घबराइए मत और खुल के जिंदगी का आनंद लीजिए -आज़ादी मुबारक।

प्रायः पूछे जाने वाले सवाल

  1. क्या अतिसक्रिय मूत्राशय गंभीर है? 

आम तौर पर अतिसक्रिय मूत्राशय गंभीर नहीं है। पर अगर ये आपकी रोजमर्रा की जिंदगी को मुश्किल बना रहा है, या 7-8 से ज्यादा बार हो रहा है तो ये एक गंभीर बीमारी की ओर इशारा है।

  1. मुझे कैसे पता चलेगा कि मेरा मूत्राशय अतिसक्रिय है? 

अगर आपको अचानक या तत्काल पेशाब करने की इच्छा 7-8 से ज्यादा बार हो रही है तो फिर हो सकता है कि आपका मूत्राशय अतिसक्रिय है। 

  1. यह स्थिति बच्चों में भी हो सकती है? 

कई बार बच्चे भी अतिशक्रिय मूत्राशय से प्रभावित हो सकते है। इसके कारण और संकेत भी अलग हो सकते है। जरूरी नहीं कि ये गंभीर हो। 

  1. क्या बढ़े हुए मूत्राशय को ठीक किया जा सकता है? 

बढ़े हुए मूत्राशय को वापस अपने सामान्य आकर में लाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। रिडक्शन सिस्टोप्लास्टी नामक एक सर्जरी इसमें आपकी मदद कर सकती है। अगर आकार थोड़ा ही बढ़ा है तो व्यायाम और दवाइयां भी इसे ठीक करने में मददगार साबित होते हैं।

  1. अतिसक्रिय मूत्राशय कितने समय तक रहता है?

- इसका का कोई स्थिर समय नहीं है। उपचार से ये ठीक हो सकता है और जल्द से जल्द उपचार करने से इससे निजात पाया जा सकता है। 

To get updated on the latest stories across categories choose